25 Jul 2017, 04:6 HRS IST
  • दिल्ली: संसद के अंदरूनी भाग का उपरी छत से लिया गया आकर्षक छायाचित्र
    दिल्ली: संसद के अंदरूनी भाग का उपरी छत से लिया गया आकर्षक छायाचित्र
    बीकानेर: भगवान गणेश की मूर्तियों को अंतिम रूप देते हुए कलाकार
    बीकानेर: भगवान गणेश की मूर्तियों को अंतिम रूप देते हुए कलाकार
    वाराणसी: बाबा काशी विश्वनाथ के दर्शनार्थ लंबी कतार में खड़े कांवड़िए
    वाराणसी: बाबा काशी विश्वनाथ के दर्शनार्थ लंबी कतार में खड़े कांवड़िए
    डर्बी : भारतीय महिला क्रिकेट टीम
    डर्बी : भारतीय महिला क्रिकेट टीम
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • शुरूआती कारोबार में सेंसेक्स में 425 अंक की उछाल, निफ्टी 8,800 के पार

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 11:2 HRS IST

मुंबई, 17 फरवरी (भाषा) सेंसेक्स में आज लगातार दूसरे दिन तेजी का रख देखा गया और शुरूआती कारोबार में इसमें 425 अंक की जबरदस्त उछाल देखी गई। इसी प्रकार निफ्टी भी 8,800 अंक को पार कर गया। शेयर बाजारों में इस तेजी की प्रमुख वजह विदेशी पूंजी का प्रवाह बढ़ना है।

तीस कंपनियों के शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स आज 424.99 अंक यानी 1.50 प्रतिशत की छलांग लगाकर 28,726.26 अंक पर खुला है। पिछले सत्र के कारोबार में इसमें 145.71 अंक की तेजी देखी गई थी।

इसी प्रकार एनएसई निफ्टी शुरूआती कारोबार में 91.60 अंक यानी 1.04 प्रतिशत सुधरकर 8,869.60 अंक खुला है।

भारतीय रिजर्व बैंक ने कल कंपनियों में शेयर की खरीद पर विदेशी निवेशकों के लिए लगे प्रतिबंधों को हटा दिया जिसके बाद एचडीएफसी बैंक के शेयरों में 7.29 प्रतिशत तक का उछाल देखा गया है।

विदेशी संस्थागत निवेशक (एफआईआई), प्रवासी भारतीय (एनआरआई) और भारतीय मूल के लोग (पीआईओ) भारत में पोर्टफोलियो निवेश योजना के माध्यम से प्राथमिक और द्वितीयक पूंजी बाजार में निवेश कर सकते हैं। रिजर्व बैंक भारतीय कंपनियों में एफआईआई, एनआरआई और पीआईओ के माध्यम से किए जाने वाले निवेश पर लगी सीमा की दैनिक निगरानी करेगा।

उल्लेखनीय है कि एचडीएफसी लिमिटेड, एक्सिस बैंक, ल्यूपिन, पावर ग्रिड, अडाणी पोर्ट्स, टाटा मोटर्स, ओएनजीसी, सिप्ला, गेल, भारती एयरटेल और एलएंडटी जैसी कंपनियों के शेयरों में उछाल के चलते शेयर बाजारों में तेजी देखी गई है।

ब्रोकरों के अनुसार विदेशी निवेश प्रवाह बढ़ने के साथ निवेशकों की सतत खरीदारी और घरेलू सांस्थानिक निवेशकों की ओर से बड़ी खरीद के चलते शेयर बाजार में तेजी का रख देखा गया है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में