21 Jul 2017, 07:56 HRS IST
  • नई दिल्ली में हुई भारी बारिश के बाद का नजारा
    नई दिल्ली में हुई भारी बारिश के बाद का नजारा
    नयागढ: ओड़िसा के नयागढ जिले के कुरल गांव में हल चलाता किसान
    नयागढ: ओड़िसा के नयागढ जिले के कुरल गांव में हल चलाता किसान
    दिल्ली: भारी बारिश के बाद पानी से भरी गलियों से गुजरते विद्यार्थी
    दिल्ली: भारी बारिश के बाद पानी से भरी गलियों से गुजरते विद्यार्थी
    कोलंबो: एक प्रशंसक के सेल्फी खिंचवाते क्रिकेटर इशांत शर्मा
    कोलंबो: एक प्रशंसक के सेल्फी खिंचवाते क्रिकेटर इशांत शर्मा
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • सिंधु आयोग की बैठक में भाग लेने के लिए पाकिस्तान पहुंचा भारतीय प्रतिनिधिमंडल

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 0:42 HRS IST

: एम जुलकरनैन : लाहौर:नयी दिल्ली, 19 मार्च :भाषा: पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में कल से आरंभ हो रही स्थायी सिंधु आयोग :पीआईसी: की बैठक में भाग लेने के लिए 10 सदस्यीय भारतीय प्रतिनिधिमंडल आज यहां पहुंच गया।

दो दिवसीय बैठक में भाग लेने जा रहे इस प्रतिनिधिमंडल में भारत के सिंधु जल आयुक्त पीके सक्सेना, विदेश मंत्रालय के अधिकारी और तकनीकी विशेषज्ञ शामिल हैं।

वरिष्ठ पाकिस्तानी अधिकारियों और भारतीय उच्चायोग के अधिकारियों ने वाघा सीमा पर प्रतिनिधिमंडल का स्वागत किया।

वाघा सीमा पर पहुंचे मीडिया कर्मियों को प्रतिनिधिमंडल तक पहुंचने नहीं दिया गया।

यहां पहुंचने के बाद प्रतिनिधमंडल कड़ी सुरक्षा के बीच सड़क के रास्ते इस्लामाबाद के लिए रवाना हो गया।

इस बीच भारत सरकार के एक सूत्र ने पीटीआई-भाषा से कहा कि भारत सिंधु जल संधि के तहत परियोजनाओं को लेकर पाकिस्तान की चिंताओं पर चर्चा करने और उनका समाधान करने के लिए सदा तैयार है।

हलांकि सूत्र ने इस बात को दोहराया कि भारत की ओर से 57 साल पुरानी इस संधि के तहत अपने उचित अधिकारों को दोहन करने को लेकर कोई समझौता नहीं किया जाएगा।

बहरहाल, इस बैठक के एजेंडे को अभी अंतिम रूप नहीं दिया गया है। उरी आतंकी हमले के बाद भारत की ओर से इस संधि पर बातचीत नहीं करने का फैसला करने के छह महीने के उपरांत यह बैठक होने जा रही है।

यह पूछे जाने पर कि क्या बैठक के एजेंडे को लेकर सहमति बनाने में विलंब से मुद्दों के समाधान के लिए कम समय मिलेगा तो सूत्र ने ना में जवाब दिया।

जारी

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में