21 Aug 2017, 06:2 HRS IST
  • मासोन: रूस की स्वेतलाना कुज्नेत्सोवा रिवर्स शॉट लगाती हुई
    मासोन: रूस की स्वेतलाना कुज्नेत्सोवा रिवर्स शॉट लगाती हुई
    कोलकाता: सतरंगी छाते की छांव में ग्राहकों का इंतजार करती फल विक्रेता
    कोलकाता: सतरंगी छाते की छांव में ग्राहकों का इंतजार करती फल विक्रेता
    दिल्ली: उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू को गुलदस्ता भेंट करते किरेन रिजीजू
    दिल्ली: उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू को गुलदस्ता भेंट करते किरेन रिजीजू
    मुंबई: लैक्मे फैशन वीक—2017 में प्रदर्शन के दौरान अभिनेत्री दिया मिर्जा
    मुंबई: लैक्मे फैशन वीक—2017 में प्रदर्शन के दौरान अभिनेत्री दिया मिर्जा
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • धवन के शतक के बाद मध्यक्रम चरमराया, भारत के छह विकेट पर 329 रन

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 18:8 HRS IST

पल्लेकेले, 12 अगस्त (भाषा) सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के छठे टेस्ट शतक और लोकेश राहुल के साथ उनकी पहले विकेट के लिये 188 रन की भागीदारी के बाद भारतीय मध्यक्रम के बल्लेबाजों के जल्दी जल्दी आउट होने से श्रीलंका ने आज यहां तीसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के शुरूआती दिन स्टंप तक मेहमान टीम को छह विकेट पर 329 रन ही बनाने दिये।

स्टंप तक रिद्धिमान साहा 13 और हार्दिक पंड्या एक रन बनाकर खेल रहे हैं। श्रीलंकाई गेंदबाजों में बायें हाथ के स्पिनर मलिंडा पुष्पकुमार सबसे सफल रहे, जिन्होंने 18 ओवर में 40 रन देकर तीन बल्लेबाजों को पवेलियन पहुंचाया जबकि चाइनामैन लक्षण संदाकन को 84 रन देकर दो विकेट मिले। विश्व फर्नांडो ने एक विकेट प्राप्त किया।

भारत ने अच्छी शुरूआत करते हुए पहले सत्र में एक भी विकेट नहीं गंवाया था लेकिन श्रीलंकाई गेंदबाजों ने वापसी करते हुए दूसरे और अंतिम सत्र में तीन-तीन विकेट झटक लिये।

फार्म में चल रहे चेतेश्वर पुजारा (आठ), पिछले टेस्ट के शतकवीर अजिंक्य रहाणे (17) सस्ते में पवेलियन लौट गये जबकि कप्तान विराट कोहली (42) क्रीज पर जमने के बाद आउट हो गये।

कोहली 79वें ओवर में संदाकन की गुड लेंथ गेंद पर बल्ला छुआकर पहली स्लिप में खड़े करूणारत्ने को आसान कैच दे बैठे। रविचंद्रन अश्विन (31) दिन के अंतिम ओवर में विश्व फर्नांडो का शिकार बने।

अश्विन और डीआरएस की अपील से बचने वाले साहा ने 81वें ओवर में भारत के 300 रन पूरे कराये। इन दोनों ने दूसरी नयी गेंद का अच्छी तरह सामना करते हुए छठे विकेट के लिये 26 रन जोड़े। अब भारतीय टीम कल 400 रन तक का स्कोर बनाने का प्रयास करेगी।

इससे पहले धवन (119) और लोकेश राहुल (85) ने पहले विकेट के लिये 188 रन की मजबूत साझेदारी निभायी। इस तरह इन दोनों ने 1993 में मनोज प्रभाकर और नवजोत सिद्धू के बीच श्रीलंका के खिलाफ उसकी सरजमीं पर पहले विकेट की 173 रन की सबसे बड़ी भागीदारी के रिकार्ड को पीछे छोड़ दिया।

राहुल एक बार फिर टेस्ट शतक से चूक गये और 40वें ओवर में बायें हाथ के स्पिनर पुष्पकुमार की गेंद पर दिमुथ करूणारत्ने को मिड आन पर सीधे कैच देकर आउट हो गये। उन्होंने 135 गेंद की पारी में आठ चौके जड़े।

जारी

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।