26 Sep 2018, 08:32 HRS IST
  • सबसे बड़े लोकतंत्र में राजनीति का अपराधीकरण चिंता का विषय-न्यायालय
    सबसे बड़े लोकतंत्र में राजनीति का अपराधीकरण चिंता का विषय-न्यायालय
    जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • कमजोर वैश्विक संकेतों के चलते सेंसेक्स पर दिखा सावधानी भरा रुख,

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 11:27 HRS IST



मु्ंबई, 13 मार्च( भाषा) वृहद आर्थिक आंकड़ों के सकारात्मक रहने और रुपया में सुधार के बावजूद सेंसेक्स पर आज निवेशकों का रुख सावधानी भरा रुख रहा। इसकी अहम वजह वैश्विक बाजारों में धारणा कमजोर होना है।

बंबई शेयर बाजार का30 कंपनियों के शेयरों पर आधारित सेंसेक्स44.58 अंक यानी0.13% सुधर कर33,962.52 पर खुला है। हालांकि वाल स्ट्रीट पर नकारात्मक रुख के बाद एशियाई बाजारों के कमजोर रुख से यह बढ़त थम गई।

पिछले सत्र के कारोबार में यह610.80 अंक बढ़ गया जो पिछले दो साल में एक ही दिन में हुई सबसे अधिक वृद्धि रही।

इसी प्रकार एनएसई का निफ्टी भी19.65 अंक यानी0.18% बढ़कर10,441.05 अंक पर खुला।

इसमें मुख्य लाभ विप्रो, भारती एयरटेल, एसबीआई, सन फार्मा को हुआ। वहीं टीसीएस, कोल इंडिया और एनटीपीसी में गिरावट देखी गई।

कल टाटा संस के टीसीएस में अपनी1.48% हिस्सेदारी बेचे जाने के बाद टीसीएस का शेयर पांच प्रतिशत गिर गया।

ब्रोकरों के अनुसार सकारात्मक आर्थिक आंकड़ों के चलते बाजार में चुनिंदा लिवाली हुई।

उल्लेखनीय है कि जनवरी में औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर7.5% रही जबकि खुदरा मुद्रास्फीति4.4% रही है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में