26 Sep 2018, 08:10 HRS IST
  • सबसे बड़े लोकतंत्र में राजनीति का अपराधीकरण चिंता का विषय-न्यायालय
    सबसे बड़े लोकतंत्र में राजनीति का अपराधीकरण चिंता का विषय-न्यायालय
    जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • उत्तर कोरियाई परमाणु एवं मिसाइल परीक्षण रोकने के एवज में संयुक्त सैन्याभ्यास बंद करें अमेरिका, दक्षिण कोरिया और जापान : चीन

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 12:9 HRS IST



बीजिंग, 13 मार्च( एएफपी) चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने आशा जतायी है कि उत्तर कोरिया, अमेरिका और दक्षिण कोरिया के बीच होने वाली वार्ता बिना किसी बाधा के संपन्न होगी और प्योंगयांग के परमाणु नि: शस्त्रीकरण की दिशा में प्रगति होगी।

सरकारी संवाद समिति शिन्हुआ की खबर के अनुसार, शी ने दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार चुंग ईयू- यंग के साथ आज बैठक में यह टिप्पणी की। चुंग उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग- उन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड टूंप के साथ पिछले सप्ताह हुई बातचीत से शी को अवगत कराने चीन आये हैं।

उत्तर कोरिया के नेता किमजोंग उन अप्रैल के अंत में दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे- इन से असैन्य जोन में मिलने को राजी हुए हैं जबकि ट्रंप के साथ उनकी मुलाकात मई के अंत तक होने की संभावना है।

शी ने कहा, ‘‘ हम आशा करते हैं कि डीपीआरके- आरओके सम्मेलन और डीपीआरके- यूएस वार्ता निर्विघ्न रहेगी।’’

उत्तर कोरिया का पूरा नाम कोरिया जनवादी लोकतांत्रिक गणराज्य( डीपीआरके) और दक्षिण कोरिया का औपचारिक नाम कोरिया गणराज्य है।

शी ने आशा जतायी कि वार्ता से कोरियाई प्रायद्वीप के नि: शस्त्रीकरण और इसमें शामिल देशों के संबंधों को सामान्य बनाने की दिशा में ठोस प्रगति होगी।

चीन ने इस संबंध में‘ डुअल ट्रैक’ की बात की है जिसमें परमाणु नि: शस्त्रीकरण के साथ- साथ शांति प्रक्रिया स्थापित की जाए।

देश ने‘‘ सस्पेंशन- फॉर- सस्पेंशन’ योजना की बात है, जिसमें उत्तर कोरिया द्वारा परमाणु और मिसाइल परीक्षण रोके जाने के एवज में अमेरिका, दक्षिण कोरिया और जापान अपने संयुक्त सैन्याभ्यासों को बंद करेंगे।

एएफपी 1303 1208 बीजिंग

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में