21 Jul 2018, 01:19 HRS IST
  • गुवाहाटी : गर्मी से निजात पाने के लिए नदी में नहाते बंदर जोडी
    गुवाहाटी : गर्मी से निजात पाने के लिए नदी में नहाते बंदर जोडी
    अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के अध्यक्ष बैच पत्रकारों को संबोधित करते
    अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के अध्यक्ष बैच पत्रकारों को संबोधित करते
    खोरदा : किसान मानसून के मौके पर धान की रोपाई करते
    खोरदा : किसान मानसून के मौके पर धान की रोपाई करते
    मानसून सत्र में ​भाग लेते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
    मानसून सत्र में ​भाग लेते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • हार के बाद इंग्लैंड में पसरा मातमी सन्नाटा

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 11:40 HRS IST



लंदन, 12 जुलाई (एएफपी) पहला गोल होने के बाद हर्षातिरेक में नाचते कूदते इंग्लैंड के फुटबालप्रेमियों को उस समय सांप सूंघ गया जब क्रोएशिया ने दो गोल करके उनकी टीम को सेमीफाइनल में 2 . 1 से हराकर विश्व कप जीतने का सपना तोड़ दिया ।

फूट फूटकर रो रही लौरा रूसोन ने कहा ,‘‘ मैं बहुत दुखी हूं लेकिन मुझे अपनी टीम पर फख्र है ।’’



इससे पहले इंग्लैंड ने जब शुरूआती बढत बना ली थी तब माहौल एकदम दीगर था । लोग एक दूसरे को बधाई दे रहे थे और खुशी से नाच रहे थे ।

मुराद हुसेनोव ने कहा ,‘‘ मेरे जीवन में पहली बार इंग्लैंड सेमीफाइनल तक पहुंचा थ । लग रहा था मानो इतिहास रच डाला ।’’



इंग्लैंड की मौजूदा टीम में से आधे से अधिक तो पैदा भी नहीं हुए थे जब इंग्लैंड ने आखिरी बार विश्व कप सेमीफाइनल खेला था । मैनेजर गेरेथ साउथगेट भी इंग्लैंड की एकमात्र विश्व कप जीत यानी 1966 के चार साल बाद पैदा हुए थे ।



हाइडे पार्क स्क्रीनिंग के लिये 30000 मुफ्त टिकट बांटे गए थे । यहां 94 मीटर बाय 11 मीटर की स्क्रीन लगाई गई थी और माहौल परिवारों के साथ बैठकर मैच देखने के लिये उपयुक्त था ।

पहले गोल के बाद बीयर के दौर शुरू हो गए और लोगों ने भावविभोर होकर राष्ट्रगीत गाना भी शुरू कर दिया । इसके बाद जब क्रोएशिया ने बराबरी का गोल दागा तो सभी खामोश हो गए ।

एक प्रशंसक ने कहा ,‘‘ हमने लंबे समय से ऐसा उतार चढाव नहीं देखा था । करीब तीन करोड़ लोग टीवी से चिपके हुए थे । घरों में , पब , बार, रेस्त्रां हर जगह बस मैच ही चल रहा था ।पूरा देश एकजुट हो गया था ।’’

एएफपी



मोना मोना 1207 1140 लंदन

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।