21 Oct 2018, 04:51 HRS IST
  • विजयदशमी मनाते श्रद्धालुगण
    विजयदशमी मनाते श्रद्धालुगण
    कोलकाता: दुर्गा पूजा पंडाल में पूजा करते श्रद्धालु
    कोलकाता: दुर्गा पूजा पंडाल में पूजा करते श्रद्धालु
    महानवमी पर विंध्याचल धाम में  हवन करते भक्तगण
    महानवमी पर विंध्याचल धाम में हवन करते भक्तगण
    रांची: महानवमी के अवसर पर पूजन का दृश्य
    रांची: महानवमी के अवसर पर पूजन का दृश्य
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • पाकिस्तान के एक मतदान अधिकारी का दावा, वोटों की हेराफेरी के लिए सुरक्षा बलों ने किया अपहरण

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 9:42 HRS IST



कराची, 10 अगस्त (भाषा) पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के एक मतदान अधिकारी ने दावा किया कि धार्मिक गठबंधन मुत्ताहिदा मजलिस अमल के उम्मीदवार के पक्ष में जबरदस्ती फर्जी वोट डलवाने के लिए सुरक्षा बलों ने उनका अपहरण कर लिया था।

पाकिस्तान निर्वाचन आयोग ने अपनी वेबसाइट पर मतदान अधिकारी की चिठ्ठी अपलोड की है जिसमें वशूक जिले के मतदान केंद्र संख्या 45 के मतदान अधिकारी ने यह दावा किया है।

बलूचिस्तान प्रांत के पीबी-41 विधानसभा सीट के चुनाव अधिकारी ने इस पत्र को सत्यापित किया है और इस पर उनका मुहर भी लगा है। मतदान अधिकारी ने इस पत्र में दावा किया है कि सुरक्षा बलों ने उनका अपहरण कर लिया। बाद में एमएमए के पक्ष में फर्जी मतों की संख्या के साथ फार्म 45 जमा करने को कहा गया।

इस मामले में कल क्वेटा में आयोग ने सुनवाई की थी जहां प्रांत के चुनाव अधिकारी ने बताया कि नकाबपोश लोगों ने मतदान के दिन दो मतदान अधिकारियों का अपहरण कर लिया था और इसी वजह से इन दोनों मतदान केंद्रों के मतों को पीबी-41 सीट के मतों की गिनती के दौरान शामिल नहीं किया गया था।

इस सीट से चुनाव हारने वाले बलूचिस्तान अवामी पार्टी के उम्मीदवार मीर मुजीबुर रहमान मोहम्मद हसानी ने आयोग का ध्यान इस तरफ आकर्षित कराया कि मतदान केंद्र संख्या 44 और 45 के परिणाम बलूचिस्तान विधानसभा सीट के पीबी-41 सीट के अंतिम परिणाम में शामिल नहीं थे।

इसके बाद आयोग ने इस मसले का संज्ञान लिया था।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में