23 May 2019, 15:21 HRS IST
  • ईवीएम और वीवीपैट के आंकड़ों का 100 फीसदी मिलान करने की मांग वाली याचिका खारिज
    ईवीएम और वीवीपैट के आंकड़ों का 100 फीसदी मिलान करने की मांग वाली याचिका खारिज
    प्रज्ञा ने माफी मांग ली है, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें माफ नहीं कर पाऊंगा- मोदी
    प्रज्ञा ने माफी मांग ली है, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें माफ नहीं कर पाऊंगा- मोदी
    न्यायालय ने राहुल गांधी के लोकसभा चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध की मांग वाली याचिका खारिज की
    न्यायालय ने राहुल गांधी के लोकसभा चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध की मांग वाली याचिका खारिज की
    पांचवें चरण में 51 लोकसभा सीटों पर मतदान जारी
    पांचवें चरण में 51 लोकसभा सीटों पर मतदान जारी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • शशि थरूर के खिलाफ मानहानि का मामला दायर

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 16:43 HRS IST



नयी दिल्ली, तीन नवम्बर (भाषा) कांग्रेस नेता शशि थरूर की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर की गई कथित ‘‘बिच्छू’’ वाली टिप्पणी को लेकर यहां एक अदालत में उनके खिलाफ आपराधिक मानहानि की शिकायत दायर की गई।

दिल्ली भाजपा के नेता राजीव बब्बर ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि थरूर ने दुर्भावनापूर्ण ढ़ंग से यह बयान दिया जिससे न केवल हिंदू देवता का अनादर हुआ है बल्कि यह अपमानजनक भी है।

उन्होंने कहा कि थरूर के बयान से उनकी धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं।

वकील नीरज के जरिए दायर शिकायत में बयान को ‘‘असहनीय दुर्व्यवहार’’ और लाखों लोगों की आस्था का ‘‘पूरी तरह अपमान’’ बताया गया है।

इसमें कहा गया है, ‘‘शिकायतकर्ता की धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं और आरोपी ने जानबूझ कर यह द्वेषपूर्ण काम किया जिसकी मंशा भगवान शिव के भक्तों की धार्मिक मान्यताओं का अपमान कर उनकी धार्मिक भावनाओं को आहत करना है।’’



अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल ने शनिवार को इस मामले को विचार-विमर्श के लिए 16 नवम्बर के लिए सूचीबद्ध कर दिया।



थरूर ने बेंगलुरू साहित्य महोत्सव में रविवार को एक ताजा विवाद पैदा करते हुए दावा किया था कि एक अनाम आरएसएस नेता ने मोदी की तुलना ‘‘शिवलिंग पर बैठे बिच्छू’’ से की थी।





मानहानि से संबंधित भारतीय दंड संहिता की धारा 499 और धारा 500 के तहत यह शिकायत दायर की गई है। यदि थरूर दोषी पाये गये तो उन्हें दो वर्ष की अधिकतम जेल की सजा हो सकती है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।