23 May 2019, 14:25 HRS IST
  • ईवीएम और वीवीपैट के आंकड़ों का 100 फीसदी मिलान करने की मांग वाली याचिका खारिज
    ईवीएम और वीवीपैट के आंकड़ों का 100 फीसदी मिलान करने की मांग वाली याचिका खारिज
    प्रज्ञा ने माफी मांग ली है, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें माफ नहीं कर पाऊंगा- मोदी
    प्रज्ञा ने माफी मांग ली है, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें माफ नहीं कर पाऊंगा- मोदी
    न्यायालय ने राहुल गांधी के लोकसभा चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध की मांग वाली याचिका खारिज की
    न्यायालय ने राहुल गांधी के लोकसभा चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध की मांग वाली याचिका खारिज की
    पांचवें चरण में 51 लोकसभा सीटों पर मतदान जारी
    पांचवें चरण में 51 लोकसभा सीटों पर मतदान जारी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • सेंसेक्स 269 अंक की छलांग से 38,000 अंक के पार

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 16:28 HRS IST

मुंबई, 15 मार्च (भाषा) बंबई शेयर बाजार में तेजी का सिलसिला शुक्रवार को लगातार पांचवें कारोबारी सत्र में जारी रहा और सेंसेक्स 269 अंक की बढ़त से 38,000 अंक के पार निकल गया। सकारात्मक वैश्विक रुख के बीच विदेशी कोषों का प्रवाह बढ़ने और रुपये में मजबूती से बाजार में तेजी रही।

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दोपहर के कारोबार में करीब 500 अंक तक चढ़ गया था। अंत में यह 269.43 अंक या 0.71 प्रतिशत की बढ़त के साथ 38,024.32 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 83.60 अंक या 0.74 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,426.85 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की कंपनियों में कोटक बैंक का शेयर सबसे अधिक 4.31 प्रतिशत चढ़ गया।

पावरग्रिड, टीसीएस, आईसीआईसीआई बैंक, एसबीआई, एचसीएल टेक, एनटीपीसी, इन्फोसिस, बजाज फाइनेंस, एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक, ओएनजीसी, वेदांता और इंडसइंडस बैंक के शेयर 2.84 प्रतिशत तक चढ़ गए।

वहीं दूसरी ओर हिंदुस्तान यूनिलीवर, यस बैंक, आईटीसी, भारती एयरटेल, रिलायंस इंडस्ट्रीज, सनफार्मा और एक्सिस बैंक के शेयर 2.16 प्रतिशत तक टूट गए।

कोटक सिक्योरिटीज के उपाध्यक्ष (पीसीजी रिसर्च) संजीव जरबादे ने कहा कि पिछले सप्ताह सेंसेक्स करीब 3.5 प्रतिशत चढ़ा। उन्होंने कहा कि चुनाव पूर्व सर्वेक्षण राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की सत्ता में वापसी की बात कह रहे हैं, जिसकी वजह से विदेशी संस्थागत निवेशकों का निवेश बढ़ा है।

इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बृहस्पतिवार को शुद्ध रूप से 1,482.99 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 817.77 करोड़ रुपये की बिकवाली की।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में