23 May 2019, 14:22 HRS IST
  • ईवीएम और वीवीपैट के आंकड़ों का 100 फीसदी मिलान करने की मांग वाली याचिका खारिज
    ईवीएम और वीवीपैट के आंकड़ों का 100 फीसदी मिलान करने की मांग वाली याचिका खारिज
    प्रज्ञा ने माफी मांग ली है, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें माफ नहीं कर पाऊंगा- मोदी
    प्रज्ञा ने माफी मांग ली है, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें माफ नहीं कर पाऊंगा- मोदी
    न्यायालय ने राहुल गांधी के लोकसभा चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध की मांग वाली याचिका खारिज की
    न्यायालय ने राहुल गांधी के लोकसभा चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध की मांग वाली याचिका खारिज की
    पांचवें चरण में 51 लोकसभा सीटों पर मतदान जारी
    पांचवें चरण में 51 लोकसभा सीटों पर मतदान जारी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • महिला विरोधी टिप्पणी: पंड्या व राहुल पर 20-20 लाख रुपये का जुर्माना

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 15:26 HRS IST

नयी दिल्ली, 20 अप्रैल (भाषा) एक टेलीविजन कार्यक्रम के दौरान महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणियों को लेकर दो भारतीय क्रिकेटरों हार्दिक पंड्या और लोकेश राहुल पर शनिवार को बीसीसीआई के लोकपाल डी के जैन ने 20-20 लाख रुपये का जुर्माना लगाया।

बीसीसीआई की आधिकारिक वेबसाइट पर प्रकाशित आदेश में जैन ने लिखा है कि पंड्या और राहुल के खिलाफ आगे कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी। दोनों पहले से ही एक अनंतिम निलंबन की सजा पा चुके हैं और उन्होंने महिलाओं पर अपनी टिप्पणियों के लिए बिना शर्त माफी मांगी है।



उन्होंने विश्व कप के लिए चुने गये दोनों खिलाड़ियों पर 20-20 लाख का जुर्माना लगते हुए निर्देश दिया कि वे देश के लिए शहादत देने वाले अर्ध-सैनिक बलों के 10 जवानों की जरूरतमंद विधवाओं को ‘‘भारत के वीर’’ ऐप के जरिये एक-एक लाख रुपये का भुगतान करें।



जैन ने इन दोनों खिलाड़ियों को निर्देश दिया कि शेष 10-10 लाख रूपये की राशि वे ‘‘क्रिकेट एसोसिएशन फॉर द ब्लाइंड’’ द्वारा बनाए गए कोष में जमा करें। उन्हें ये सभी भुगतान आदेश की तारीख (19 अप्रैल 2019) से चार सप्ताह के अंदर करना होगा। ऐसा नहीं होने पर बीसीसीआई इन खिलाड़ियों की मैच फीस से ये रकम काट सकता है।



जैन ने अपने आदेश में कहा, ‘‘ मुझे यह कहने में कोई संकोच नहीं है कि खिलाड़ी द्वारा की गई टिप्पणियों ने संवेदनशीलता को ठेस पहुंचाई, जिसे टाला जाना चाहिए था यहां तक ​की उन्होंने (पंड्या और राहुल) भी इसे माना। इसलिए, उन्हें सुधार करना चाहिए।’’



उन्होंने कहा, ‘‘ इन सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए, विशेष रूप से इस तथ्य पर कि दोनों खिलाड़ियों ने अपनी कार्रवाई को सही ठहराए जाने के बिना ही माफी मांगी है। उन्होंने समाज के प्रति अपने कर्तव्य को स्वीकार किया है और खुद को उच्च मानकों पर रखने की इच्छा व्यक्त की है। वे पांच एकदिवसीय मैच खेलने से चूक गये, ऐसे में न्याय के हित में यह जुर्माना पर्याप्त होगा।’’



उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त बीसीसीआई के लोकपाल न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) डीके जैन ने टीवी चैट शो के दौरान महिलाओं के प्रति विवादास्पद टिप्पणी के मामले में सुनवाई के लिए भारतीय खिलाड़ियों 25 साल के हार्दिक पंड्या और 27 साल के लोकेश राहुल को नोटिस भेजा था।



मामले में फैसला आने के बाद दोनों खिलाड़ी अब 30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले विश्व कप पर ध्यान दे सकते है। दोनों इंडियन प्रीमियर लीग में अपनी टीमों के लिए अच्छा प्रदर्शन कर रहे है।



इससे पहले ‘काफी विद करन’ शो में आपत्तिजनक टिप्पणियों के लिए प्रशासकों की समिति ने पंड्या और राहुल को अस्थाई रूप से निलंबित किया था लेकिन बाद में लोकपाल द्वारा जांच लंबित रहने तक प्रतिबंध हटा दिया गया।

चैट शो का विवादास्पद एपिसोड जनवरी के पहले हफ्ते में प्रसारित हुआ था जिसके बाद काफी विवाद हुआ था और सीओए ने आस्ट्रेलिया दौरे के बीच से दोनों को वापस बुला लिया था और अस्थाई तौर पर निलंबित किया था।



दोनों ने इसके बाद बिना शर्त माफी मांगी थी और जांच लंबित रहने तक अस्थाई तौर पर उनका प्रतिबंध हटा दिया गया था।



पंड्या ने 11 टेस्ट, 45 एकदिवसीय और 38 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया है जबकि राहुल ने देश के लिए 34 टेस्ट, 14 एकदिवसीय और 27 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।