23 May 2019, 14:22 HRS IST
  • ईवीएम और वीवीपैट के आंकड़ों का 100 फीसदी मिलान करने की मांग वाली याचिका खारिज
    ईवीएम और वीवीपैट के आंकड़ों का 100 फीसदी मिलान करने की मांग वाली याचिका खारिज
    प्रज्ञा ने माफी मांग ली है, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें माफ नहीं कर पाऊंगा- मोदी
    प्रज्ञा ने माफी मांग ली है, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें माफ नहीं कर पाऊंगा- मोदी
    न्यायालय ने राहुल गांधी के लोकसभा चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध की मांग वाली याचिका खारिज की
    न्यायालय ने राहुल गांधी के लोकसभा चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध की मांग वाली याचिका खारिज की
    पांचवें चरण में 51 लोकसभा सीटों पर मतदान जारी
    पांचवें चरण में 51 लोकसभा सीटों पर मतदान जारी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • प्रदर्शनकारियों के साथ वार्ता निलंबित: सूडानी सेना

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 10:2 HRS IST

खार्तूम, 16 मई (एएफपी) सूडान के सैन्य शासक जनरल अब्देल फतह अल बुरहान ने बृहस्पतिवार को कहा कि देश में नागरिक शासन लागू करने को लेकर प्रदर्शनकारियों के साथ चल रही वार्ता 72 घंटों के लिए निलंबित कर दी गई है।

बुरहान के इस बयान का सरकारी टेलीविजन पर गुरूवार को सीधा प्रसारण किया गया।

बुरहान ने कहा, ‘‘हमने समझौता करने के लिए उचित माहौल तैयार करने के मकसद से नागरिक शासन के मसले पर चल रही बातचीत 72 घंटे के लिए निलंबित कर दी है।’’

उन्होंने प्रदर्शनकारियों से खार्तूम में सड़क पर लगाए गए अवरोधक हटाने, राजधानी एवं अन्य क्षेत्रों को जोड़ने के लिए पुल खोलने और ‘‘सुरक्षा बलों को उकसाना बंद करने’’ की मांग की।

सैन्य जनरलों और प्रदर्शनकारियों के नेताओं के बीच सूडान का शासन चलाने के लिए तीन वर्ष के लिए एक नई शासकीय इकाई बनाने को लेकर अंतिम समझौता होने की उम्मीद की जा रही थी।

देश में उमर अल बशीर के तख्तापलपट के बाद से सत्ता संभाल रही सैन्य परिषद के प्रमुख बुरहान ने वार्ता के अहम एवं अंतिम चरण को निलंबित करने के इस निर्णय को सही बताते हुए कहा कि राजधानी में सुरक्षा हालात खराब हो गए हैं।

इससे पहले प्रदर्शनकारियों के नेताओं ने भी बताया था कि सैन्य परिषद ने वार्ता निलंबित कर दी है।

एएफपी सिम्मी रंजन रंजन 1605 1003 खार्तूम

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में