24 Aug 2019, 21:15 HRS IST
  • मथुरा में कृष्ण जन्मभूमि भागवत भवन में उमड़े श्रद्धालु
    मथुरा में कृष्ण जन्मभूमि भागवत भवन में उमड़े श्रद्धालु
    पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह राज्यसभा सदस्य के रूप में शपथ लेते
    पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह राज्यसभा सदस्य के रूप में शपथ लेते
    कृष्ण जम्माष्टमी के मौके पर दही हांडी का एक नजारा
    कृष्ण जम्माष्टमी के मौके पर दही हांडी का एक नजारा
    मुंबई में दही हांडी उत्सव में शिरकत करते श्रद्धालु
    मुंबई में दही हांडी उत्सव में शिरकत करते श्रद्धालु
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • श्रीलंका के खिलाफ श्रृंखला में न्यूजीलैंड की नजरें शीर्ष टेस्ट रैंकिंग पर

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 10:33 HRS IST

गॉल, 13 अगस्त (एएफपी) विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ दिल तोड़ने वाली हार के ठीक एक महीने बाद बुधवार से श्रीलंका के खिलाफ यहां शुरू हो रही दो टेस्ट की श्रृंखला में न्यूजीलैंड के पास टेस्ट रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल करने का मौका होगा।



टेस्ट रैंकिंग में न्यूजीलैंड के 109 अंक हैं और वह सिर्फ भारत से पीछे है जिसके 113 अंक हैं। न्यूजीलैंड हालांकि श्रीलंका को 2-0 से हराते हुए भारत को पछाड़कर दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम बन सकता है।



दो साल की आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप शुरू होने के कारण नई टेस्ट रैंकिंग काफी महत्वपूर्ण होगी। टेस्ट चैंपियनशिप 2021 में खत्म होगी जब शीर्ष दो टीमों के बीच लार्ड्स में फाइनल खेला जाएगा।



खराब दौर से गुजर रही श्रीलंका की टीम गॉल में पहले टेस्ट के लिए पूरी तरह से स्पिन की अनुकूल पिच तैयार करने को लेकर असमंजस में होगी क्योंकि पिछले मैच में यहां उसे इंग्लैंड ने हरा दिया था।



न्यूजीलैंड की टीम भी यहां स्पिन विभाग में काफी विकल्पों के साथ आई है। टीम में मुंबई में जन्में बायें हाथ के स्पिनर एजाज पटेल भी हैं जिन्होंने नेगोम्बो में अभ्यास मैच में पांच विकेट चटकाए थे। वह पहले टेस्ट में लेग स्पिनर टाड एस्टल का साथ दे सकते हैं।



तेज गेंदबाजी न्यूजीलैंड का मजबूत पक्ष है लेकिन वे दो तेज गेंदबाजों के साथ उतर सकते हैं जबकि आलराउंडर कोलिन डि ग्रैंडहोम तीसरा विकल्प होंगे।



ट्रेंट बोल्ट नंबर एक पसंद होंगे जबकि टीम को दूसरे तेज गेंदबाज के लिए टिम साउथी और नील वैगनर के बीच में चयन करना होगा।



श्रीलंका को हालांकि हल्के में नहीं लिया जा सकता। उसने पिछली श्रृंखला में दक्षिण अफ्रीका को उसकी सरजमीं पर 2-0 से हराया और ऐसा करने वाली पहली एशियाई टीम बना।



दक्षिण अफ्रीका में श्रीलंका की जीत में ओशाडा फर्नांडो की अहम भूमिका रही थी जिन्होंने पोर्ट एलिजाबेथ में अपने दूसरे ही टेस्ट में नाबाद 75 रन की पारी खेली थी।



फर्नांडो को विश्व कप टीम में जगह नहीं मिलने पर पूर्व खिलाड़ियों ने चयनकर्ताओं की काफी आलोचना की थी।



फर्नांडो के लिए निराशा आगे भी है और पूरी संभावना है कि वह दक्षिण अफ्रीका दौरे के दौरान चोटिल एंजेलो मैथ्यूज की वापसी के कारण दोनों ही टेस्ट में नहीं खेल पाएंगे।



दक्षिण अफ्रीका दौरे से बाहर रहे पूर्व कप्तान दिनेश चांदीमल की भी टीम में वापसी हुई है और टीम प्रबंधन को विकेटकीपर बल्लेबाज के स्थान के लिए उनके और निरोशन डिकवेला के बीच फैसला करना होगा।



दक्षिण अफ्रीका दौरे पर नहीं जा पाए लाहिरू कुमारा श्रीलंका के तेज गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई करेंगे। सुरंगा लकमल और विश्व फर्नांडो ने दक्षिण अफ्रीका में शानदार गेंदबाजी की थी।

एएफपी सुधीर सुधीर 1308 1032 गॉल

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।