19 Jan 2020, 15:43 HRS IST
  • एनआरसी व एनपीआर- कांग्रेस व भाजपा ने एक दूसरे पर साधा निशाना
    एनआरसी व एनपीआर- कांग्रेस व भाजपा ने एक दूसरे पर साधा निशाना
    'आरएसएस के प्रधानमंत्री' भारत माता से झूठ बोलते हैं- राहुल फोटो पीटीआई
    'आरएसएस के प्रधानमंत्री' भारत माता से झूठ बोलते हैं- राहुल फोटो पीटीआई
    दिल्ली के किराड़ी में आग लगने से नौ लोगों की मौत
    दिल्ली के किराड़ी में आग लगने से नौ लोगों की मौत
    बंगाल में नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन
    बंगाल में नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • बैंक ने फ्लैट मालिकों को भेजे नोटिस वापस लिये

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 21:57 HRS IST

नोएडा, 14 अगस्त (भाषा) यूनियन बैंक आफ इंडिया ने यहां एक आवासीय परिसर के 200 परिवारों को बुधवार को तब भारी राहत प्रदान की जब उसने आवास को खाली करने के लिए पूर्व में दिए गये अपने नोटिस को वापस ले लिया।

बैंक ने यह नोटिस बिल्डर द्वारा 78 करोड़ रूपये के कर्ज को नहीं चुकाने के कारण जारी किया था।

बैंक ने पांच अगस्त को नोएडा सेक्टर 75 में स्थित गार्डन गेटवे के निवासियों को नोटिस जारी कर 20 अगस्त तक उनसे उनके मकान खाली करने को कहा था। अपार्टमेंट के निवासियों की एसोसिएशन ने यह जानकारी दी।

इस मामले के तूल पकड़ने के बाद बैंक ने बुधवार को अपना नोटिस वापस ले लिया।

बैंक की परिसंपत्ति वसूली शाखा ने उन्हें भेजे एक संदेश में कहा, ‘‘हम आपको सूचित करते हैं कि पांच अगस्त 2019 की उक्त सूचना को तुरंत प्रभाव से वापस ले लिया गया है।’’

बैंक के नोटिसों के अनुसार गार्डेनिया इंडिया लिमिटेड के बिल्डर ने इस आवासीय परियोजना को कर्ज के लिए बंधक के तौर पर रखा था। इस कर्ज पर 31 दिसंबर 2015 को 78.45 लाख रूपये और उसका ब्याज बकाया था।

बैंक ने पहले कहा था कि नोटिस मिलने के 15 दिन बाद फ्लैट मालिकों को उनका घर खाली करना होगा।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में