28 Nov 2020, 19:21 HRS IST
  • केरल:सबरीमला में कई लोग कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आए
    केरल:सबरीमला में कई लोग कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आए
    राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल श्रीलंका पहुंचे
    राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल श्रीलंका पहुंचे
    पुडुचेरी के निकट पहुंचा ‘निवार’
    पुडुचेरी के निकट पहुंचा ‘निवार’
    बहुत जल्दी छोड़कर चले गए माराडोना
    बहुत जल्दी छोड़कर चले गए माराडोना
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • नवाज शरीफ लंदन में इलाज कराने के लिए राजी : रिपोर्ट

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 18:13 HRS IST

लाहौर, आठ नवंबर (भाषा) पाकिस्तान के बीमार चल रहे पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने डॉक्टरों और परिवार की सलाह पर इलाज कराने के लिए लंदन जाने की बात मान ली है। मीडिया में आयी एक रिपोर्ट में शुक्रवार को यह जानकारी दी गयी।

इससे एक दिन पहले ऐसी खबर आयी थी कि 69 वर्षीय पीएमएल(एन) सुप्रीमो अपने छोटे भाई शाहबाज शरीफ के साथ इलाज कराने के लिए लंदन जा सकते हैं।

शरीफ को बुधवार को लाहौर में उनके जट्टी उमरा रायविंड आवास ले जाया गया था। वह दो सप्ताह तक कई बीमारियों के इलाज के लिए पाकिस्तान के एक अस्पताल में भर्ती रहे थे। शरीफ (69) का प्लेटलेट काउंट कम होकर 2000 रह गया था जिसके बाद उन्हें 22 अक्टूबर को सर्विसेज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। वह भ्रष्टाचार निरोधक इकाई की हिरासत में थे।

शरीफ के परिवार के एक सदस्य ने डॉन अखबार को बताया, ‘‘डॉक्टरों ने नवाज शरीफ को बताया था कि उन्होंने पाकिस्तान में उपलब्ध इलाज के सभी विकल्प अपना लिए हैं और विदेश जाने का ही विकल्प बचा है, जिसके बाद आखिरकार नवाज शरीफ लंदन जाने के लिए राजी हो गए।’’

उन्होंने बताया कि अगर उनका नाम सरकार द्वारा शामिल एग्जिट कंट्रोल सूची से हटा दिया जाता है तो शरीफ इस सप्ताह लंदन के लिए रवाना हो सकते हैं ।

खबर में शरीफ के परिवार के सदस्य के हवाले से कहा गया है, ‘‘हालांकि शरीफ सर्विसेज अस्पताल के मेडिकल बोर्ड की सिफारिशेां और शरीफ मेडिकल सिटी के चिकित्सकों तथा अपने परिवार के सदस्यों के ‘अनुरोध’ के बाद विदेश जाने के लिए तैयार नहीं थे लेकिन अब वह मान गए हैं।’’

उन्होंने बताया कि शरीफ की बेटी मरयम नवाज अपने पिता के साथ नहीं जाएगी क्योंकि उन्होंने चौधरी शुगर मिल भ्रष्टाचार मामले में मिली जमानत के खिलाफ गारंटी के तौर पर लाहौर उच्च न्यायालय में अपना पासपोर्ट जमा करा रखा है।

उन्होंने बताया, ‘‘इस समय नवाज शरीफ की सेहत ज्यादा मायने रखती है क्योंकि वह जिंदगी के लिए लड़ रहे हैं। मरयम नवाज बाद में अपने पिता की देखभाल के लिए लंदन जाने के विकल्प पर विचार कर सकती हैं।’’

चौधरी शुगर मिल्स मामले की सुनवाई के लिए लाहौर की जवाबदेही अदालत में पेशी के दौरान पत्रकारों से बातचीत में मरयम ने कहा कि शरीफ को जल्द से जल्द इलाज के लिए विदेश जाना चाहिए।

गौरतलब है कि शरीफ की पत्नी कुलसुम का गत वर्ष लंदन में गले के कैंसर के कारण निधन हो गया था।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में