22 Feb 2020, 03:57 HRS IST
  • एजीआर बकाया भुगतान संबंधी आदेश का अनुपालन नहीं होने पर न्यायालय ने अपनाया कड़ा रुख
    एजीआर बकाया भुगतान संबंधी आदेश का अनुपालन नहीं होने पर न्यायालय ने अपनाया कड़ा रुख
    एनआरसी व एनपीआर- कांग्रेस व भाजपा ने एक दूसरे पर साधा निशाना
    एनआरसी व एनपीआर- कांग्रेस व भाजपा ने एक दूसरे पर साधा निशाना
    'आरएसएस के प्रधानमंत्री' भारत माता से झूठ बोलते हैं- राहुल फोटो पीटीआई
    'आरएसएस के प्रधानमंत्री' भारत माता से झूठ बोलते हैं- राहुल फोटो पीटीआई
    दिल्ली के किराड़ी में आग लगने से नौ लोगों की मौत
    दिल्ली के किराड़ी में आग लगने से नौ लोगों की मौत
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • तिमाही नतीजों, आम बजट को लेकर उम्मीदों से तय होगी शेयर बाजार की चाल

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 10:46 HRS IST

नयी दिल्ली, 19 जनवरी (भाषा) कंपनियों के तिमाही नतीजों तथा आगामी आम बजट को लेकर उम्मीदों से ही इस सप्ताह शेयर बाजार की चाल तय होगी। विश्लेषकों ने यह राय व्यक्त की है।

इस सप्ताह कोटक महिंद्रा बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, एक्सिस बैंक, केनरा बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा के तिमाही परिणाम आने हैं।

बीते सप्ताह बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 345.65 अंक या 0.83 प्रतिशत के लाभ में रहा।

विश्लेषकों का कहना है कि अमेरिका और ईरान के बीच तनाव कम होने तथा अमेरिका और चीन के बीच पहले चरण के व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर शेयर बाजारों की हालिया तेजी की प्रमुख वजह हैं।

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख (खुदरा) सिद्धार्थ खेमका ने कहा, ‘‘आने वाले समय में निवेशक सतर्क रहेंगे क्योंकि बाजार सर्वकालिक उच्च स्तर पर चल रहे हैं। तीसरी तिमाही के लिये कंपनियों के परिणाम आ रहे हैं, ऐसे में शेयर बाजार की चाल चुनिंदा कंपनियों के इर्द-गिर्द रह सकती है। इसके अलावा कृषि, ग्रामीण, उर्वरक, सार्वजनिक उपक्रम, बुनियादी संरचना और निर्माण आदि से संबंधित क्षेत्रों में बजट से लगी उम्मीदों का असर हो सकता है। इस सप्ताह जिन कंपनियों के तिमाही परिणाम पर निवेशकों की नजरें रहेंगी, उनमें आईसीआईसीआई बैंक, जेएसडब्ल्यू स्टील, जी, हैवेल्स, एचडीएफसी एएमसी आदि शामिल हैं।’’ इनके अलावा बाजार पर कच्चे तेल तथा रुपये की चाल और विदेशी निवेशकों के रुख का भी असर देखा जा सकता है।

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘कुल मिलाकर अनुमान है कि तीसरी तिमाही के परिणामों से वित्त वर्ष 2019-20 और 2020-21 की वृद्धि की गति को समर्थन मिलेगा। इसके अलावा बाजार को सरकार से बजट में ठोस उपायों की उम्मीद है।’’ उन्होंने कहा कि टीसीएस ने शुक्रवार को बाजार बंद होने के बाद तिमाही परिणाम जारी किये। कंपनी का एकीकृत शुद्ध मुनाफा तीसरी तिमाही में मामूली 0.2 प्रतिशत बढ़कर 8,118 करोड़ रुपये रहा। सोमवार को बाजार पर इसका असर देखने को मिल सकता है।

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने भी शुक्रवार को बाजार बंद होने के बाद परिणाम जारी किये। कंपनी का एकीकृत शुद्ध मुनाफा तीसरी तिमाही में 13.5 प्रतिशत बढ़कर 11,640 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। सोमवार को बाजार पर इसका भी असर दिख सकता है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में