05 Jun 2020, 00:2 HRS IST
  • लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • सेंसेक्स 400 अंकों से ज्यादा गिरा, एक्सिस बैंक, आरआईएल सबसे ज्यादा टूटे

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 10:12 HRS IST

मुंबई, आठ अप्रैल (भाषा) वैश्विक बाजारों में कमजोर संकेतों के चलते 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स सूचकांक बुधवार को शुरुआती कारोबार के दौरान 400 अंकों से ज्यादा गिर गया। इस दौरान एचडीएफसी बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज और आईसीआईसीआई बैंक सबसे ज्यादा टूटे।

बीएसई सेंसेक्स 29,602.94 तक गिरने के बाद खबर लिखे जाने तक सुधार दर्शाता हुआ 14.98 अंक या 0.05 प्रतिशत की गिरावट के साथ 30,052.23 पर कारोबार कर रहा था। इसी तरह एनएसई निफ्टी 9.50 अंक या 0.11 प्रतिशत की गिरावट के साथ 8,782.70 पर था।

सेंसेक्स में एक्सिस बैंक में सबसे अधिक तीन प्रतिशत की गिरावट देखने को मिली। इसके बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज, टीसीएस, आईटीसी और इंडसइंड बैंक का स्थान रहा।

दूसरी ओर सन फार्मा, एचयूएल, एमएंडएम और एचडीएफसी में पांच प्रतिशत तक की तेजी देखने को मिली।

पिछले सत्र में बीएसई सेंसेक्स 2,476.26 अंक या 8.97 प्रतिशत की तेजी के साथ 30,067.21 पर बंद हुआ था, जबकि एनएसई निफ्टी 708.40 अंक या 8.76 प्रतिशत चढ़कर 8,792.20 पर बंद हुआ था।

शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक (एफआईआई) मंगलवार को पूंजी बाजार में शुद्ध खरीदार बन गए और उन्होंने सकल आधार पर 741.77 करोड़ रुपये के इक्विटी शेयर खरीदे।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर के अनुसार निवेशक लॉकडाउन में राहत मिलने का इंतजार कर रहे हैं, ताकि कंपनियां कारोबार शुरू कर सकें।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में