05 Jun 2020, 00:6 HRS IST
  • लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • कोविड-19 की मार से फ्रांस की अर्थव्यवस्था खस्ताहाल, पहली तिमाही में छह प्रतिशत की गिरावट

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 15:25 HRS IST

पेरिस, आठ अप्रैल (एएफपी) कोरोना वायरस की मार से फ्रांस की अर्थव्यवस्था की हालत खस्ता है। चालू वर्ष की पहली तिमाही(जनवरी- मार्च) में फ्रांस की अर्थव्यवस्था छह प्रतिशत सिकुड़ गई।

यह 1945 के बाद फ्रांस की अर्थव्यवस्था का यह सबसे खराब प्रदर्शन है। बैंक आफ फ्रांस ने बुधवार को यह जानकारी दी।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार 2019 की अंतिम तिमाही में भी फ्रांस की अर्थव्यवस्था में 0.1 प्रतिशत की गिरावट आई थी। इस तरह लगातार दो तिमाहियों में फ्रांस की अर्थव्यवस्था में गिरावट रही है। अब तकनीकी रूप से फ्रांस मंदी की गिरफ्त में आ चुका है।

फ्रांस के केंद्रीय बैंक ने कहा कि मार्च के आखिरी दो सप्ताह में कोरोना वायरस संकट गहराने के बीच आर्थिक गतिविधियों में 32 प्रतिशत की गिरावट आई है।

केंद्रीय बैंक ने कहा कि 1968 की दूसरी तिमाही में राजनीतिक गतिरोध की वजह ऐसी स्थिति देखने को मिली थी। हालांकि, उस समय भी अर्थव्यवस्था में गिरावट आज की तुलना में कम यानी 5.3 प्रतिशत रही थी।

एएफपी अजय अजय मनोहर मनोहर 0804 1524 पेरिस

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में