18 Sep 2020, 13:42 HRS IST
  • रास में की गई कोरोना योद्धाओं को वीरता पुरस्कार देने की मांग
    रास में की गई कोरोना योद्धाओं को वीरता पुरस्कार देने की मांग
    आईपीएल के दौरान सट्टेबाजी पर नजर रखेगा स्पोर्टराडार
    आईपीएल के दौरान सट्टेबाजी पर नजर रखेगा स्पोर्टराडार
    कोविड मृत्यु दर घटा कर एक फीसदी से नीचे लाने का लक्ष्य: स्वास्थ्य मंत्री
    कोविड मृत्यु दर घटा कर एक फीसदी से नीचे लाने का लक्ष्य: स्वास्थ्य मंत्री
    सरकार की देश के 69,000 पेट्रोल पंपों पर ईवी चार्जिंग कियोस्क लगाने की योजना
    सरकार की देश के 69,000 पेट्रोल पंपों पर ईवी चार्जिंग कियोस्क लगाने की योजना
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • अमेरिका में 5जी वायरलेस सेवाओं के लिये सेना के पास उपलब्ध रेडियो स्पेक्ट्रम देने की पेशकश

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 16:19 HRS IST

वाशिंगटन, 11 अगस्त (एपी) अमेरिका के रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने सैन्य इस्तेमाल के लिये रखे गये 5जी एयरवेब का बड़ा हिस्सा अमेरिका में उच्चगति की इंटरनेट सेवाओं के लिये मुक्त करने की योजना बनाई है।

इससे देश में 5जी वायरलेस प्रौद्योगिकी को चीन से पहले किया जा सकेगा।

ट्रंप प्रशासन ने सोमवार को घोषणा करते हुये कहा था कि उसने रडार रक्षा प्रणाली में इस्तेमाल होने वाली रेडियो स्पेक्ट्रम की पहचान कर ली है। इस स्पेक्ट्रम का इस्तेमाल देश की राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता किये बिना वाणिज्यिक दूरसंचार सेवा प्रदाताओं को उपलब्ध कराया जा सकता है।

मोबाइल सेवाओं के क्षेत्र में 5जी एक नया तकनीकी मानक है। इसमें वायरलेस नेटवर्क की गति और तेज होने का दावा किया जाता है। 5जी नेटवर्क एक साथ अधिक लोगों को बेहतर सुविधा उपलब्ध करा सकता है और भारी ट्रेफिक वहन कर सकता है।

हालांकि, इससे पहले जून में अमेरिकी कांग्रेस शोध सेवा की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिका में 5जी प्रौद्यागिकी की अधिक तरंगे उपलब्ध नहीं है। क्योंकि अमेरिकी सेना ने इसके लिए इस्तेमाल करने लायक काफी स्पेक्ट्रम को अपने पास रखा है। एपी



महाबीर मनोहर मनोहर 1108 1619 वाशिंगटन

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में