24 Oct 2020, 17:54 HRS IST
  • न्यायाधीशों को निडर होकर लेने चाहिए निर्णय: न्यायमूर्ति एन.वी. रमण
    न्यायाधीशों को निडर होकर लेने चाहिए निर्णय: न्यायमूर्ति एन.वी. रमण
    गोयल को मिला उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय
    गोयल को मिला उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय
    पीआईएल:सुशांत मामले में अर्णब की रिपोर्टिंग भ्रामक होने का दावा
    पीआईएल:सुशांत मामले में अर्णब की रिपोर्टिंग भ्रामक होने का दावा
    प्रतिकूल परिस्थितियों से निपटने की अभियान क्षमता दिखाई:भदौरिया
    प्रतिकूल परिस्थितियों से निपटने की अभियान क्षमता दिखाई:भदौरिया
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • बीईएल का रक्षा कारोबार पर बड़ा दांव, आत्मनिर्भर भारत अभियान को लेकर उत्साहित

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 18:14 HRS IST

बेंगलुरु, 13 सितंबर (भाषा) भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लि. (बीईएल) देश में अपने रक्षा कारोबार को लेकर उत्साहित है। कंपनी को उम्मीद है कि सरकार की आत्मनिर्भर भारत पहल से उसे आगे लाभ होगा। हालांकि, इसके साथ ही कंपनी का कहना है कि कोविड-19 की वजह से लघु अवधि में उसके कारोबार पर प्रतिकूल असर है।

बेंगलुरु की रक्षा क्षेत्र की सार्वजनिक उपक्रम कंपनी की ऑर्डर बुक एक अप्रैल को 51,973 करोड़ रुपये थी। कंपनी के अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

वित्त वर्ष 2019-20 मे बीईएल के कुल राजस्व में रक्षा क्षेत्र का हिस्सा 82 प्रतिशत का था। इससे पिछले वित्त वर्ष में यह 68 प्रतिशत था। कंपनी ने कहा कि उसके राजस्व में शेष 18 प्रतिशत गैर-रक्षा क्षेत्र का है।

बीईएल के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक एम पी गौतम ने कहा कि सरकार के रक्षा क्षेत्र में ‘मेक इन इंडिया’ के आह्वान से कंपनी के पास देश में उत्पादन बढ़ाने का बड़ा अवसर है। साथ ही यह कंपनी के लिए उभरते मौकों का लाभ लेने का भी अवसर है।

रक्षा मंत्रालय के तहत नवरत्न सार्वजनिक उपक्रम कंपनी का कारोबार 2019-20 में 12,608 करोड़ रुपये रहा था। यह 2018-19 की तुलना में 6.94 प्रतिशत की वृद्धि है। गौतम ने सात सितंबर को शेयरधारकों को लिखे पत्र मे कहा कि कंपनी 2020-21 में 12-15 प्रतिशत की मजबूत वृद्धि की उम्मीद कर रही है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में