08 May 2021, 04:3 HRS IST
  • गुजरात के भरूच में अस्पताल में आग लगने से कोविड-19 के 18 मरीजों की मौत
    गुजरात के भरूच में अस्पताल में आग लगने से कोविड-19 के 18 मरीजों की मौत
    कोविड की ताजा लहर के ‘तूफान’ ने देश को झकझोर कर रख दिया-मोदी
    कोविड की ताजा लहर के ‘तूफान’ ने देश को झकझोर कर रख दिया-मोदी
    देश में कोविड-19 से 2,023 लोगों की मौत, संक्रमण के 2,95,041 नए मामले
    देश में कोविड-19 से 2,023 लोगों की मौत, संक्रमण के 2,95,041 नए मामले
    त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब कोरोना वायरस से संक्रमित
    त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब कोरोना वायरस से संक्रमित
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • अगले साल को ध्यान में रखकर बाकी तीन मैचों में युवाओं को मौका देंगे : धोनी

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 23:16 HRS IST

शारजाह, 23 अक्टूबर (भाषा) अब तक 11 में से आठ मैच गंवाकर आईपीएल प्लेआफ की दौड़ से लगभग बाहर हो चुकी चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि अगले साल को ध्यान में रखते हुए बाकी तीन मैचों में युवाओं को परखा जायेगा ।

मुंबई इंडियंस के हाथों दस विकेट से मिली हार के बाद धोनी ने कहा ,‘‘ इस तरह के प्रदर्शन से दुख होता है । हमें देखना होगा कि गलती कहां हुई । यह हमारा साल नहीं था । आप भले ही आठ विकेट से हारें या दस विकेट से , वह मायने नहीं रखता लेकिन देखना यह है कि हम टूर्नामेंट में इस समय कहां है और यही दुखी करता है ।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ हमें दूसरे मैच से ही देखना था कि हम कहां गलत है । रायुडू चोटिल हो गया और बाकी बल्लेबाज अपना दो सौ फीसदी नहीं दे पाये । किस्मत ने भी हमारा साथ नहीं दिया । जिन मैचों में हम पहले बल्लेबाजी करना चाहते थे, वहां टॉस नहीं जीत सके । जब हमने पहले बल्लेबाजी की तो ओस थी ।’’

तीन बार की चैम्पियन टीम के कप्तान ने कहा ,‘‘ खराब प्रदर्शन करने पर सौ बहाने दिये जा सकते हैं लेकिन सबसे अहम यह है कि हमें खुद से पूछना होगा कि क्या हम अपनी क्षमता के अनुरूप खेल सके । क्या हमने अब तक के अपने रिकार्ड के अनुसार खेला । नहीं । हमने कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हुए ।’’

धोनी ने कहा कि अगले साल के लिये तस्वीर साफ होना बहुत जरूरी है ।

उन्होंने कहा ,‘‘ अगले साल बहुत सारे अगर मगर होंगे । आने वाले तीन मैचों में युवा खिलाड़ियों को परखा जायेगा । अगले साल को ध्यान में रखकर देखेंगे कि कौन डैथ ओवरों में अच्छी गेंदबाजी कर सकता है और कौन बल्लेबाजी का दबाव झेल सकता है । अगले तीन मैचों में नये चेहरों को आजमाया जायेगा ।’’

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में