28 Sep 2021, 10:12 HRS IST
  • प्रधानमंत्री मोदी ने आयुष्मान भारत-डिजिटल मिशन की शुरुआत की
    प्रधानमंत्री मोदी ने आयुष्मान भारत-डिजिटल मिशन की शुरुआत की
    जर्मनी के चुनाव में सोशल डेमोक्रेट पार्टी ने मर्केल के ब्लॉक को हराया
    जर्मनी के चुनाव में सोशल डेमोक्रेट पार्टी ने मर्केल के ब्लॉक को हराया
    जिस तरीके से मैच जीते खुश हूं: कोहली
    जिस तरीके से मैच जीते खुश हूं: कोहली
    भारत बंद के कारण कई ट्रेनों की आवाजाही प्रभावित
    भारत बंद के कारण कई ट्रेनों की आवाजाही प्रभावित
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • टाटा संस की इकाई लगभग 1,890 करोड़ रुपये में तेजस नेटवर्क में नियंत्रण हिस्सेदारी हासिल करेगी

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 10:48 HRS IST

नयी दिल्ली, 29 जुलाई (भाषा) दूरसंचार और नेटवर्क फर्म तेजस नेटवर्क ने गुरुवार को कहा कि एक बहुचरणीय सौदे के तहत टाटा संस की एक इकाई लगभग 1,890 करोड़ रुपये में उसकी नियंत्रण हिस्सेदारी हासिल करेगी।

तेजस नेटवर्क ने एक बयान में कहा कि उसने टाटा संस (टाटा समूह की होल्डिंग फर्म) की सहायक कंपनी पैनाटोन फिनवेस्ट के साथ बाध्यकारी समझौता किया है।

समझौते के तहत कंपनी पैनाटोन को तरजीही आधार पर 258 रुपये प्रति शेयर की दर से 1.94 करोड़ इक्विटी शेयर जारी करेगी, जो कुल 500 करोड़ रुपये के होंगे।

कंपनी ने बताया कि इसके बाद 3.68 करोड़ वारंटों का एक और तरजीही आवंटन होगा, जिनमें से प्रत्येक को 258 रुपये प्रति इक्विटी शेयर की दर से एक शेयर में बदला जा सकता है, जिसकी कुल राशि 950 करोड़ रुपये होगी।

बयान में कहा गया है कि पैनाटोन द्वारा वारंट जारी होने की तारीख से 11 महीने के भीतर एक या कई चरणों में इस विकल्प का इस्तेमाल किया जा सकता है।

इसके अलावा 1.55 करोड़ वारंटों का तरजीही आवंटन भी किया जाएगा, जिनमें से प्रत्येक को 258 रुपये प्रति इक्विटी शेयर की दर से शेयर में बदला जा सकता है, जिसकी कुल राशि 400 करोड़ रुपये होगी। वारंट को जारी करने की तारीख से 18 महीनों के भीतर इस विकल्प का इस्तेमाल किया जा सकता है।

बयान में कहा गया कि पैनाटोन प्रबंधन में कुछ कर्मियों से तेजस नेटवर्क के 13 लाख इक्विटी शेयरों का अधिग्रहण करेगा, जिसकी दर 258 रुपये प्रति इक्विटी शेयर से अधिक नहीं होगी और इसकी कुल राशि 34 करोड़ रुपये है।

इसके बाद पैनाटोन और टाटा समूह की अन्य कुछ कंपनियां सेबी के अधिग्रहण नियमों के अनुसार तेजस नेटवर्क के 4.03 करोड़ इक्विटी शेयरों के अधिग्रहण के लिए एक खुली पेशकश करेंगी।

इस समझौते पर टिप्पणी करते हुए तेजस नेटवर्क के अध्यक्ष वी बालकृष्णन ने कहा, ‘‘इस साझेदारी से हमें जरूरी वित्तीय संसाधन, वैश्विक संबंध और एक मजबूत पारिस्थितिकी तंत्र मिलेगा।’’

टाटा संस के कार्यकारी निदेशक सौरभ अग्रवाल ने कहा कि तेजस नेटवर्क अनुसंधान और विकास के क्षेत्र में मजबूत स्थिति रखने वाली एक प्रमुख दूरसंचार और नेटवर्क कंपनी है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम तेजस नेटवर्क की अत्यधिक अनुभवी प्रबंधन टीम के साथ काम करने और विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धी वायरलाइन और वायरलेस उत्पादों की पेशकश करने के लिए तत्पर हैं।’’

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में