07 Dec 2021, 08:4 HRS IST
  • भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से करारी शिकस्त दी
    भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से करारी शिकस्त दी
    बीआर आंबेडकर पुण्यतिथि
    बीआर आंबेडकर पुण्यतिथि
    राजनाथ सिंह ने दिल्ली में अपने रूसी समकक्ष से मुलाकात की
    राजनाथ सिंह ने दिल्ली में अपने रूसी समकक्ष से मुलाकात की
    पोप फ्रांसिस यूनान दौरे पर
    पोप फ्रांसिस यूनान दौरे पर
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • सऊदी अरब ने 2060 तक ‘शून्य उत्सर्जन’ की प्रतिबद्धता जताई

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 16:29 HRS IST

दुबई, 23 अक्टूबर (एपी) दुनिया के सबसे बड़े तेल उत्पादकों में शामिल सऊदी अरब ने 2060 तक ग्रीन हाउस गैसों के ‘शून्य उत्सर्जन’ की प्रतिबद्धता जताई है। यह घोषणा युवराज मोहम्मद बिन सलमान ने शनिवार को की। इसके साथ ही सऊदी अरब उन 100 से अधिक देशों में शामिल हो गया है जिन्होंने दुनिया को मानव निर्मित जलवायु परिवर्तन से बाहर निकालने की प्रतिबद्धता जताई है।

सऊदी अरब के पहले सऊदी हरित पहल मंच के शुभारंभ के मौके पर बिन सलमान ने यह घोषणा की है।

यह घोषणा सिर्फ सऊदी अरब की अपनी राष्ट्रीय सीमाओं के तहत है। इससे सऊदी अरब का पेट्रोलियम क्षेत्र में आक्रामक निवेश तथा एशिया और अन्य क्षेत्रों में निर्यात प्रभावित नहीं होगा।

सऊदी अरब की यह घोषणा ग्लासगो, स्कॉटलैंड में वैश्विक सीओपी 26 जलवायु सम्मेलन शुरू होने से पहले आई है। यह सम्मेलन 31 अक्टूबर से शुरू हो रहा है।

इस सम्मेलन में दुनिया के विभिन्न देश हिस्सा ले रहे हैं जो जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों पर विचार-विमर्श करेंगे।

हाल में सामने आए ‘लीक’ दस्तावेजों से पता चलता है कि कैसे सऊदी अरब और अन्य देश मसलन ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील और जापान ग्लोबल वार्मिंग पर संयुक्त राष्ट्र विज्ञान समिति की रिपोर्ट की अनदेखी करने का प्रयास कर रहे हैं। बीबीसी ने सबसे पहले बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी थी।

तेल एवं गैस निर्यात सऊदी अरब की अर्थव्यवस्था का आधार है। हालांकि, तेल पर निर्भरता कम करने के लिए सऊदी अरब द्वारा विविधता के प्रयास किए गए हैं।

एपी अजय

अजय कृष्ण कृष्ण 2310 1626 दुबई

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।