06 Jul 2022, 01:30 HRS IST
  • किताब'मोदी@20: ड्रीम्स मीट डिलीवरी'चर्चा कार्यक्रम में जयशंकर
    किताब'मोदी@20: ड्रीम्स मीट डिलीवरी'चर्चा कार्यक्रम में जयशंकर
    राष्ट्रपति पद की राजग की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू पटना पहुंची
    राष्ट्रपति पद की राजग की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू पटना पहुंची
    महाराष्ट्र में भारी बारिश की चेतावनी जारी
    महाराष्ट्र में भारी बारिश की चेतावनी जारी
    अमेरिका में स्वतंत्रता दिवस का जश्न
    अमेरिका में स्वतंत्रता दिवस का जश्न
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • हमारे विधायक एकजुट, तीनों राज्यसभा सीटें जीतेंगे: गहलोत

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 14:12 HRS IST

जयपुर, आठ जून (भाषा) राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को कहा कि पार्टी व उसके सभी समर्थक विधायक एकजुट हैं और राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस के तीनों उम्मीदवार जीतेंगे।

गहलोत ने उदयपुर में संवाददाताओं से कहा,‘‘हम तीनों सीटें जीतेंगे, हमारे विधायक एकजुट हैं।’’

राजस्थान से राज्यसभा की चार सीटों के लिए 10 जून को चुनाव होना है। कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव के लिए मुकुल वासनिक, रणदीप सुरजेवाला, और प्रमोद तिवारी को उतारा है जबकि भाजपा ने पूर्व मंत्री घनश्याम तिवाड़ी को उम्मीदवार बनाया है। भाजपा व राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी आरएलपी ने मीडिया कारोबारी और निर्दलीय उम्मीदवार सुभाष चंद्रा को समर्थन दिया है।

गहलोत ने कहा,‘‘हमारे पास शुरू से ही तीनों सीटों के लिए 126 विधायकों का समर्थन हैं।’’

भाजपा द्वारा निर्दलीय उम्मीदवार चंद्रा का समर्थन किए पर सवाल उठाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘भाजपा समर्थित उम्मीदवार जो बनाए गए हैं उनको सोचना चाहिए था कि जब उनके पास संख्या बल नहीं है तब क्यों उन्होंने यह दावेदारी की। इसके मायने हैं कि ‘हॉर्स ट्रेडिंग’ (खरीद-फरोख्त) करने की मंशा शुरू से ही रही है और इसलिए उन्होंने दूसरा उम्मीदवार खड़ा किया जबकि उनके पास इसके लिए बहुमत नहीं है।’’

उन्होंने कहा,‘‘हम तीनों सीटें जीतेंगे हमारे विधायक एकजुट हैं। हमें इस बात का गर्व है कि पहले भी जब राजनीतिक संकट आया था तब विधायक एकजुट रहे थे जबकि उन्हें कितना लोभ लालच दिया गया था।’’

भाजपा द्वारा राज्य में विधायकों की कथित खरीद-फरोख्त की आशंका जताते हुए प्रवर्तन निदेशालय व भारतीय निर्वाचन आयोग को पत्र लिखे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘परसों चुनाव है और ये अब पत्र लिख रहे हैं... दरअसल उनका षड्यंत्र जो था वह कामयाब नहीं हुआ। हमारे तमाम लोग एकजुट रहे, वे हॉर्स ट्रेडिंग में फेल रहे हैं, इसलिए बौखलाए हुए हैं।’’

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।