18 May 2022, 03:8 HRS IST
  • राजनाथ सिंह ने मुंबई में दो स्वदेश निर्मित युद्धपोतों का जलावतरण किया
    राजनाथ सिंह ने मुंबई में दो स्वदेश निर्मित युद्धपोतों का जलावतरण किया
    शाह ने उच्च स्तरीय बैठक में जम्मू-कश्मीर की स्थिति की समीक्षा की
    शाह ने उच्च स्तरीय बैठक में जम्मू-कश्मीर की स्थिति की समीक्षा की
    रिश्वत लेने के आरोप में कार्ति चिदंबरम के 10 ठिकानों पर छापेमारी
    रिश्वत लेने के आरोप में कार्ति चिदंबरम के 10 ठिकानों पर छापेमारी
    प्रधानमंत्री मोदी ने की योगी सरकार के मंत्रियों से मुलाकात
    प्रधानमंत्री मोदी ने की योगी सरकार के मंत्रियों से मुलाकात
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • राष्ट्रीय राजधानी के कुछ हिस्सों में भीषण लू की चेतावनी

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 11:21 HRS IST

नयी दिल्ली, 14 मई (भाषा) भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने 'ऑरेंज' अलर्ट जारी करते हुए चेतावनी दी है कि शहर के कुछ हिस्सों में शनिवार को पारा 46 से 47 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच सकता है, जिससे अगले दो दिन राष्ट्रीय राजधानी में लू चलने और भीषण गर्मी पड़ने का अनुमान है।

सफदरजंग वेधशाला में अधिकतम तापमान शुक्रवार को 42.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था जो आज 44 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। इस वेधशाला द्वारा दर्ज तापमान को दिल्ली का मानक तापमान माना जाता है।

राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार को नजफगढ़ में तापमान बढ़कर 46.1 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। जाफरपुर और मुंगेशपुर में मौसम केंद्रों ने अधिकतम तापमान क्रमश: 45.6 डिग्री सेल्सियस और 45.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया, जो साल के इस मौसम के लिए सामान्य से छह डिग्री अधिक है।

पीतमपुरा में भी लू की स्थिति बनी रही और अधिकतम तापमान 44.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

रविवार को लोगों को भीषण गर्मी को लेकर सतर्क करने के लिए ‘‘यलो’’ अलर्ट जारी किया गया है।

आईएमडी मौसम की चेतावनी के लिए चार कलर कोड का इस्तेमाल करता है। ये चार कलर कोड ग्रीन (कोई कार्रवाई की आवश्यकता नहीं), येलो (नजर रखो और अद्यतन रहो), ऑरेंज (तैयार रहो) और रेड (कार्रवाई करो) अलर्ट हैं।

अगले सप्ताह आसमान में बादल छाए रहने और बारिश के साथ, भीषण गर्मी से कुछ राहत मिल सकती है।

कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के कारण हल्की बारिश के साथ, दिल्ली में 1951 के बाद से इस साल दूसरी बार अप्रैल का महीना सबसे गर्म रहा। इस दौरान मासिक औसत अधिकतम तापमान 40.2 डिग्री सेल्सियस था। महीने के अंत में लू के कारण शहर के कई हिस्सों में पारा 46 और 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था।

अप्रैल में राजधानी में मामूली 0.3 मिमी बारिश हुई, जबकि अप्रैल में बारिश का मासिक औसत 12.2 मिमी होता है। मार्च में सामान्यत: 15.9 मिमी वर्षा होती है लेकिन इस बार वर्षा ही नहीं हुई। आईएमडी ने मई में सामान्य तापमान अधिक रहने की अनुमान जताया था।

अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक और सामान्य से कम से कम 4.5 डिग्री अधिक होने पर लू की स्थिति घोषित की जाती है। आईएमडी के अनुसार, यदि पारा सामान्य तापमान से 6.4 डिग्री से अधिक है, तो गंभीर लू की स्थिति घोषित की जाती है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।