05 Jul 2022, 23:39 HRS IST
  • किताब'मोदी@20: ड्रीम्स मीट डिलीवरी'चर्चा कार्यक्रम में जयशंकर
    किताब'मोदी@20: ड्रीम्स मीट डिलीवरी'चर्चा कार्यक्रम में जयशंकर
    राष्ट्रपति पद की राजग की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू पटना पहुंची
    राष्ट्रपति पद की राजग की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू पटना पहुंची
    महाराष्ट्र में भारी बारिश की चेतावनी जारी
    महाराष्ट्र में भारी बारिश की चेतावनी जारी
    अमेरिका में स्वतंत्रता दिवस का जश्न
    अमेरिका में स्वतंत्रता दिवस का जश्न
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • कांस्टेबल पेपर लीक मामले में आठ लोग गिरफ्तार

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 22:35 HRS IST

जयपुर, 17 मई (भाषा) राजस्थान पुलिस की विशेष शाखा एसओजी ने पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में सहायक पुलिस उप निरीक्षक सहित आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

एसओजी के एक अधिकारी ने बताया कि 14 मई को सम्पन्न कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के पेपर पेपर लीक मामले में जयपुर के झोटवाड़ा के एक केंद्र दिवाकर पब्लिक सेकेंडरी स्कूल में परीक्षा पूर्व आपराधिक संलिप्तता से मिलीभगत कर परीक्षा का प्रश्नपत्र लीक कर दिया गया। इस संबंध में एसओजी ने 16 मई को मामला दर्ज किया था।

एसओजी के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एटीएस और एसओजी) अशोक राठौड़ ने बताया, ‘‘कांस्टेबल भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में सहायक पुलिस उपनिरीक्षक सहित आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है।’’

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में मुरलीपुरा के एक स्कूल की प्रिंसिपल और केन्द्राधीक्षक शालू शर्मा, स्कूल के निदेशक मुकेश कुमार शर्मा, सत्यनारायण कुमावत, राकेश सिंह, कमल कुमार वर्मा, रोशन कुमावत, विक्रम सिंह और पुलिस सहायक उपनिरीक्षक रतन लाल शर्मा शामिल हैं।

एक बयान में एसओजी ने बताया कि एसओजी की ‘एंटी चीटिंग सेल’ (नकल विरोधी इकाई) द्वारा प्रकरण में गहन अनुसंधान किया जा रहा है और इसमें वांछित अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।

उल्लेखनीय है कि राजस्थान पुलिस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद रद्द कर दिया गया था। 14 मई को दूसरी पारी में आयोजित परीक्षा के शुरू होने से पूर्व पेपर लीक हो गया था। झोटवाड़ा के एक परीक्षा केन्द्र से पेपर का स्क्रीन शॉट लीक हुआ था।

पुलिस ने बताया कि दूसरी पारी की परीक्षा के दौरान जयपुर के दिवाकर पब्लिक स्कूल के केंद्र अधीक्षक द्वारा पेपर को समय से पहले खोल लिया गया।

पुलिस ने बताया कि 14 मई को दूसरी पारी में करीब पौने तीन लाख अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी थी। अब इस पारी की परीक्षा फिर से करवाने का निर्णय सोमवार को लिया गया। वहीं दिवाकर पब्लिक स्कूल के केंद्र अधीक्षक के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जा रही है।

राजस्थान पुलिस और गृह रक्षा विभाग ने कांस्टेबल व आरक्षी पद के लिए 13 मई से 16 मई तक लिखित परीक्षा आयोजित की थी। राजस्थान पुलिस और गृह रक्षा विभाग ने कांस्टेबल व आरक्षी पद के लिए 13 मई से 16 मई तक लिखित परीक्षा आयोजित की थी।

इससे पूर्व राजस्थान सरकार ने सितम्बर 2021 में आयोजित राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (रीट) का पेपर लीक होने पर रीट परीक्षा को इस वर्ष फरवरी में रद्द कर दिया था। रीट पेपर मामले की जांच भी राजस्थान पुलिस की विशेष शाखा एसओजी कर रही है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।