06 Jul 2022, 00:5 HRS IST
  • किताब'मोदी@20: ड्रीम्स मीट डिलीवरी'चर्चा कार्यक्रम में जयशंकर
    किताब'मोदी@20: ड्रीम्स मीट डिलीवरी'चर्चा कार्यक्रम में जयशंकर
    राष्ट्रपति पद की राजग की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू पटना पहुंची
    राष्ट्रपति पद की राजग की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू पटना पहुंची
    महाराष्ट्र में भारी बारिश की चेतावनी जारी
    महाराष्ट्र में भारी बारिश की चेतावनी जारी
    अमेरिका में स्वतंत्रता दिवस का जश्न
    अमेरिका में स्वतंत्रता दिवस का जश्न
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • योगी आदित्यनाथ ने छात्रों से कहा, संयमित दिनचर्या सफलता की कुंजी है

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 15:31 HRS IST

लखनऊ, 23 जून (भाषा) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बृहस्पतिवार को यूपी बोर्ड की 10वीं कक्षा की परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 10 मेधावी छात्रों से बातचीत की और भविष्य में आगे बढ़ने के लिए उन्हें संयमित दिनचर्या अपनाने का सुझाव दिया।

मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की दसवीं कक्षा की परीक्षा में लखनऊ जिले की मेरिट सूची में शामिल शीर्ष 10 बच्चों, उनके अभिभावकों और उनके स्कूल के प्रधानाचार्यों से संवाद किया।

मुख्यमंत्री ने छात्र-छात्राओं से कहा कि संयमित दिनचर्या से वह परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं। समय सारिणी बनाकर दिनचर्या का पालन करें। इससे न केवल पाठ्यक्रम समय से पूरा होगा, बल्कि स्वास्थ्य भी बेहतर होगा।

आदित्यनाथ ने मेधावी बच्चों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' से जुड़ने की सलाह भी दी और कहा कि इससे उन्हें बहुत सी नई चीजें जानने का मौका मिलेगा।

उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम देश में हो रहे किसी नवीन अभिकल्प, अभिनव प्रयास, नए बदलाव आदि के बारे में जानकारी से परिपूर्ण होता है। इसे हर बच्चे, अभिभावक को जरूर सुनना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने बच्चों और अभिभावकों से प्रधानमंत्री की पुस्तक 'एक्जाम वॉरियर' और बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए खास कार्यक्रम 'परीक्षा पे चर्चा' के बारे में भी चर्चा की।

उन्होंने बच्चों की पढ़ाई के तौर-तरीकों की जानकारी लेते हुए सभी को अपने पास एक छोटी डायरी रखने का सुझाव दिया और कहा कि इस डायरी में उन्हें नयी और जरूरी बातों को नोट करना चाहिए।

आदित्यनाथ ने कहा कि छात्र-छात्राएं तय स्कूली पाठ्यक्रम के अलावा दिनचर्या में एक समय अखबार पढ़ने के लिए जरूर रखें।

उन्होंने कहा कि अखबारों के सम्पादकीय पृष्ठ विचारों से परिपूर्ण होते हैं। अलग-अलग विचारों को पढ़कर वे किसी विषय में अपना नजरिया तय कर सकते हैं। यह आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं में उपयोगी सिद्ध होगा। हर विद्यार्थी को पुस्तकालय जाने की आदत भी जरूर डालनी चाहिए।

मुख्यमंत्री ने मेधावी बच्चे तैयार करने वाले विद्यालय के प्रधानाचार्यों को बधाई दी और उनके अध्यापन और मूल्यांकन प्रणाली की जानकारी ली।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।