15 Aug 2022, 04:13 HRS IST
  • मवेशी तस्करी मामला: तृणमूल कांग्रेस के नेता अनुब्रत मंडल गिरफ्तार
    मवेशी तस्करी मामला: तृणमूल कांग्रेस के नेता अनुब्रत मंडल गिरफ्तार
    श्रावण पूर्णिमा: अयोध्या में उमड़े श्रद्धालु
    श्रावण पूर्णिमा: अयोध्या में उमड़े श्रद्धालु
    राष्ट्रपति मुर्मू ने मनाया रक्षा बंधन का त्योहार
    राष्ट्रपति मुर्मू ने मनाया रक्षा बंधन का त्योहार
    राजौरी जिले में सैन्य शिविर पर आतंकवादी हमला
    राजौरी जिले में सैन्य शिविर पर आतंकवादी हमला
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • देश के 23 आईआईटी ने तीन वर्षो में 1535 पेटेंट दर्ज कराए, 69 को उत्पादों में बदला गया

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 15:21 HRS IST

नयी दिल्ली, पांच जुलाई (भाषा) देश के 23 भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (आईआईटी) ने पिछले तीन वर्षो में 1535 पेटेंट दर्ज/पंजीकृत कराए हैं और इनमें से 69 पेटेंट को प्रक्रियाओं एवं उत्पादों में बदला गया है।

शिक्षा, महिला, बाल, युवा एवं खेल संबंधी स्थायी समिति को उच्च शिक्षा विभाग से यह जानकारी मिली है । यह रिपोर्ट सोमवार को राज्यसभा के सभापति को सौंपी गई ।

संसदीय समिति की रिपोर्ट के अनुसार, उसे यह बताया गया है कि पिछले तीन वर्षो में 23 आईआईटी ने 1535 पेटेंट दर्ज/पंजीकृत कराए हैं । इनमें से 69 पेटेंट को प्रक्रियाओं एवं उत्पादों में बदला गया जिसका देश को लाभ हुआ है।

रिपोर्ट के अनुसार, इन पेटेंट का कुल वाणिज्यिक मूल्य 13.21 करोड़ रूपये है ।

उच्च शिक्षा विभाग ने कहा है कि आईआईटी राष्ट्रीय महत्व के संस्थान होते हैं और शोध एवं नवाचार के क्षेत्र में अगुआ होते हैं जिनका उद्योगों के साथ समाज को भी फायदा होता है।

रिपोर्ट के अनुसार, पेटेंट सृजन में अग्रणी स्थान रखने वाले इन आईआईटी में बौद्धिक संपदा अधिकार प्रकोष्ठ (आईपीआर)/ प्रौद्योगिकी हस्तांतरण, समर्पित आईपीआर नीति/ दिशानिर्देश आदि मौजूद हैं जो अनुसंधान प्रयोगशालाओं एवं उद्योगों के बीच सहभागितापूर्ण शोध को बढ़ावा देते हैं । इनके पास नये उद्यमियों के लिये स्टार्टअप नीति भी है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।