07 Dec 2021, 08:1 HRS IST
  • भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से करारी शिकस्त दी
    भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से करारी शिकस्त दी
    बीआर आंबेडकर पुण्यतिथि
    बीआर आंबेडकर पुण्यतिथि
    राजनाथ सिंह ने दिल्ली में अपने रूसी समकक्ष से मुलाकात की
    राजनाथ सिंह ने दिल्ली में अपने रूसी समकक्ष से मुलाकात की
    पोप फ्रांसिस यूनान दौरे पर
    पोप फ्रांसिस यूनान दौरे पर
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम प्रेस विज्ञप्ति व्याप्त प्रेस विज्ञप्ति
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
  • प्रेस विज्ञप्ति


स्रोत: The Hewlett Foundation
श्रेणी: General
प्रमुख परोपकारी संगठन के भागीदार मीथेन उत्सर्जन को कम करने के लिए $223 मिलियन से अधिक के लिए प्रतिबद्ध हैं
13/10/2021 10:28:18:187AM

प्रमुख परोपकारी संगठन के भागीदार मीथेन उत्सर्जन को कम करने के लिए $223 मिलियन से अधिक के लिए प्रतिबद्ध हैं



प्रमुख   अंतर्राष्ट्रीय   परोपकारी   पहल   के   तहत   मीथेन   उत् ‍ सर्जन   को   कम   करने   के   लिए   कार्रवाई   की   जाएगी , जिसमें  2030 तक   उत्सर्जन   को  30% तक   कम   करने   के   लिए   वैश्विक   मीथेन   प्रतिज्ञा   शामिल   है  

वाशिंगटन, 12 अक्‍टूबर, 2021 /PRNewswire/ -- आज, 20 से अधिक प्रमुख परोपकारी संगठनों के अपनी तरह के पहले गठबंधन ने दुनिया भर में मीथेन उत्सर्जन को कम करने के लिए $223 मिलियन से अधिक की धनराशि देने की घोषणा की। इसमें अमेरिका और यूरोपीय संघ के नेतृत्व में Global Methane Pledge द्वारा वर्ष 2030 तक मीथेन उत्सर्जन को 30% तक कम करने और 2050 तक 0.2℃ तक वार्मिंग को सीमित करने के राजनयिक प्रयास का समर्थन करना शामिल है।

यह प्रतिबद्धता विश्व स्तर पर मीथेन उत्सर्जन को कम करने के लिए सबसे बड़ी निजी प्रतिज्ञा है और विशेष रूप से मीथेन में कमी के लिए आवंटित परोपकारी संसाधनों को काफी बढ़ावा देती है। इस वित्‍तपोषण को मीथेन को घटाने वाले समाधानों में सार्थक निवेश करने वाली प्रतिज्ञा पर हस्ताक्षर करने वाले 24 देशों सहित नागरिक समाज, सरकार और निजी उद्योग से और बढ़ाया जाएगा व सतत कार्रवाई होगी। 

"मीथेन को घटाना सबसे तेज एकल कार्रवाई है जिसे हम 1.5°C भविष्य को पहुंच के भीतर रखने के लिए कर सकते हैं," अमेरिकी राष्ट्रपति के विशेष दूत (जलवायु) जॉन केरी ने कहा। "2016 में, परोपकारी संगठनों ने वित्‍तपोषण को तेज करने की प्रतिबद्धता जताई जिससे हमें एचएफसी पर ऐतिहासिक किगाली संशोधन समझौते को सुरक्षित और लागू करने में मदद मिली। अब वे सरकारों के लिए समर्थन को चार गुणा से अधिक तक बढ़ा रहे हैं ताकि वे 2030 तक वैश्विक स्तर पर मीथेन में कम से कम 30 प्रतिशत कमी करने की वैश्विक मीथेन प्रतिज्ञा (Global Methane Pledge) को पूरा कर सकें।"

मीथेन कार्बन डाइऑक्साइड की तुलना में 80 गुना अधिक शक्तिशाली है। आज की वार्मिंग का कम से कम 25% हिस्‍सा मानव कार्यों से उत्‍सर्जित मीथेन द्वारा संचालित होता है, जिसमें तेल और गैस उद्योग, पशुधन और लैंडफिल सबसे बड़े उत्सर्जक हैं। वैश्विक तापमान में वृदि्ध को तेजी से धीमा करने के लिए मीथेन उत्सर्जन को कम करना सबसे प्रभावी तरीका है। हालांकि कुछ समय के लिए देशों की मीथेन में कमी करने की अपनी रणनीतियां रहीं हैं, यह प्रयास वातावरण में मीथेन उत्सर्जन के बढ़ते संकट के लिए वित्त पोषण, विकास और कार्रवाई योग्य समाधानों को लागू करने का पहला समन्वित और एकीकृत दृष्टिकोण है। 

"विज्ञान स्पष्ट है: मीथेन उत्सर्जन को कम करना ग्रह के तापमान में वृद्धि को 1.5 ℃ से कम रखने और जलवायु परिवर्तन के सबसे बुरे नुकसान को कम करने का सबसे तेज और सर्वाधिक लागत प्रभावी तरीका है," लैरी क्रेमर, अध्‍यक्ष, विलियम एंड फ्लोरा हेवलेट फाउंडेशन ने कहा। "यह परोपकारी प्रतिबद्धता अधिक न्यायसंगत, टिकाऊ भविष्य के लिए जलवायु कार्रवाई को उत्प्रेरित करने में मदद करेगी।"

इसमें फंडर्स मीथेन कमी समाधान, विशेषज्ञता, वित्तीय संसाधन, तकनीकी सहायता और श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ डेटा प्रदान करने के लिए समन्वय करेंगे ताकि मीथेन में कमी की प्रगति और सटीक निगरानी, सत्यापन और रिपोर्टिंग सुनिश्चित की जा सके जिसमें संसाधन निष्‍कर्षण व कृषि क्षेत्र भी शामिल है।

आज की घोषणा जलवायु परिवर्तन के प्रभावों को दूर करने में वैश्विक परोपकार द्वारा निभाई जा रही भूमिका पर प्रकाश डालती है। 2016 में, 18 फंडर्स की त्वरित परोपकारी कार्रवाई ने $53 मिलियन के संसाधनों के पूल का निर्माण किया जिससे मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल में किगाली समझौते को संभव बनाने में मदद मिली। इस वित्तपोषण के परिणामस्वरूप, जिस गति और पैमाने पर शक्तिशाली हाइड्रोफ्लोरोकार्बन (एचएफसी) को हटाया गया था, उसमें तेजी आई और अधिक कुशल और प्रभावी शीतलन समाधानों को व्यापक रूप से अपनाया गया।

निम्नलिखित परोपकारी संगठन आज की घोषणा का हिस्सा हैं और आज दुनिया के सामने आने वाले चुनौतीपूर्ण मुद्दों को लेकर प्रणालीगत बदलाव बनाने व उन्‍हें आगे बढ़ाने के लिए काम कर रहे हैं:

•  विलियम एंड फ्लोरा हेवलेट फाउंडेशन 

•  ब्लूमबर्ग फिलेंथ्रोपीज 

•  ब्रेकथ्रू एनर्जी 

•  चिल्ड्रन इन्वेस्टमेंट फंड फाउंडेशन (CIFF)

•  एरोल फाउंडेशन 

•  ग्रांथम फाउंडेशन 

•  हाई टाइड फाउंडेशन 

•  आइकिया फाउंडेशन 

•  जॉन डी. एंड कैथरीन टी. मैकआर्थर फाउंडेशन 

•  मैक्काल मैकबेन फाउंडेशन 

•  मोंटपेलियर एंड हैम्पशायर फाउंडेशन 

•  ओक फाउंडेशन 

•  डेविड एंड ल्यूसिल पैकर्ड फाउंडेशन 

•  पाइसीस फाउंडेशन 

•  क्वाडरेचर क्लाइमेट फाउंडेशन 

•  सी चेंज फाउंडेशन इंटरनेशनल 

•  सिकोइया क्लाइमेट फंड 

•  स्कॉल फाउंडेशन 

•  सोबरातो फिलेंथ्रोपीज 

•  जेगर फ़ैमिली फ़ाउंडेशन

संगठनों के बयान यहां देखे जा सकते हैं। 

इस प्रयास को थोड़ी संख्‍या वाले उन फंडर्स द्वारा भी समर्थन दिया जाता है, जो गुमनाम रहते हुए भी हमारे समय के सबसे महत्वपूर्ण मुद्दे को हल करने के लिए प्रतिबद्ध हैं

आज की 223 मिलियन डॉलर से अधिक की प्रतिबद्धता वैश्विक मीथेन प्रतिज्ञा के लक्ष्यों को प्राप्त करने और वातावरण में मीथेन को पर्याप्त रूप से कम करने के लिए समन्वित परोपकारी कार्यों की श्रृंखला में COP26 से आगे का पहला कदम है। दानदाता मीथेन में कमी की दिशा में परोपकारी निवेश बढ़ाने के लिए एक साथ काम करते रहेंगे और धन का आवंटन कैसे किया जाए यह निर्धारित करने के लिए अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों को शामिल करेंगे। 

हेवलेट   फाउंडेशन   के   बारे   में  

विलियम एंड फ्लोरा हेवलेट फाउंडेशन एक गैर-पक्षपाती, निजी धर्मार्थ फाउंडेशन है जो एक बेहतर दुनिया के विचारों को प्रोत्‍साहित करता है इसके लिए संस्थानों का समर्थन करता है। 50 से अधिक वर्षों से, इस फाउंडेशन ने सभी के लिए उच्‍च शिक्षा उपलब्‍ध कराने, पर्यावरण को संरक्षित करने, जीवंत प्रदर्शन कलाओं का समर्थन करने, बे एरिया समुदायों को मजबूत करने, परोपकार क्षेत्र को और अधिक प्रभावी बनाने, और दुनिया भर में लैंगिक समानता और उत्तरदायी शासन को बढ़ावा देने के प्रयासों का समर्थन किया है। और अधिक जानने के लिए www.hewlett.org देखें। 

(संपादक : यह विज्ञप्ति आपको पीआरन्यूजवायर के साथ हुए समझौते के तहत प्रेषित की जा रही है। पीटीआई पर इसका कोई संपादकीय उत्तरदायित्व नहीं है।)


 
संपर्क:
मीडिया संपर्क विवरण:
 Bookmark with:   Delicious |  Digg |  Reditt |  Newsvine
    • arrow  प्रेस विज्ञप्ति
  • pti